RTGS Full Form: RTGS क्या है और इसका इस्तेमाल कैसे करें?

क्या आप जानते हैं कि RTGS क्या होता है और क्यों इसके बारे में जानकारी रखना जरूरी है? आजकल बैंकिंग की सारी चीजें हम घर बैठे ही कर सकते हैं। अब आम आदमी के जीवन में वह दिन चले गए जब उसे बैंक में जाकर घंटों लाइनों में खड़ा होना पड़ता था और अपने चालान और सिंपल मनी ट्रांसफर के लिए बहुत इंतजार करना पड़ता था।

RTGS Full Form

आजकल मॉडर्न बैंकिंग उपलब्ध है जैसे कि RTGS, NEFT और IMPS जो की इन भुगतान प्रक्रियाओं  को बहुत ही आसान बना देते हैं। आप भी अगर ऑनलाइन net banking का इस्तेमाल करते हैं तो RTGS का नाम अवश्य ही सुना होगा पर क्या आप जानते हैं की RTGS का फुल फॉर्म (RTGS full form) क्या है, इसका इस्तेमाल कैसे करते हैं और RTGS के फायदे आदि?

अधिकतर लोगो को इसके बारे में खाश जानकारी नहीं होती है इसलिए आज हम इस आर्टिकल में RTGS पर चर्चा करेंगे। आइये सबसे पहले यह जानें की RTGS का full form क्या है।

RTGS Full Form – RTGS का फुल फॉर्म

English में RTGS का full form है: Real-Time Gross Settlement.

Hindi में RTGS का full form है: रियल टाइम ग्रॉस सेटलमेंट

यह एक लोकप्रिय इलेक्ट्रॉनिक फंड ट्रांसफर तरीका है। इस प्रक्रिया के तहत, रियल टाइम में और व्यक्तिगत आधार पर पैसे भेजे जा सकते हैं। RTGS ग्राहक को एक बैंक खाते से दूसरे बैंक खाते में एक साथ अधिक धन भेजने में सक्षम बनाता है।

What is RTGS? – RTGS क्या होता है?

रीयल-टाइम ग्रॉस सेटलमेंट (RTGS) एक ऐसा फंड ट्रांसफर सिस्टम है जो धन या प्रतिभूतियों के तात्कालिक हस्तांतरण को सक्षम बनाता है। RTGS एक सतत प्रक्रिया है जो केंद्रीय बैंक की बहियों में डेबिट और क्रेडिट को घटाए बिना ऑर्डर-दर-ऑर्डर के आधार पर भुगतान का निपटान करती है।

रीयल-टाइम सकल निपटान भुगतान एक बार किए जाने के बाद निश्चित और अपरिवर्तनीय होते हैं। अधिकांश देशों के केंद्रीय बैंक RTGS सिस्टम की देखरेख और संचालन करते हैं। जैसे, भारत में RBI RTGS प्रक्रिया की देखरेख करता है।

Is there any fee to be paid for availing the RTGS process?
क्या RTGS प्रक्रिया का लाभ उठाने के लिए कोई शुल्क देना होगा?

रिजर्व बैंक ने 1 जुलाई 2019 से RTGS  लेनदेन के लिए प्रोसेसिंग शुल्क लेना बंद कर दिया है। RBI ने बैंकों द्वारा लिए जाने वाले सेवा शुल्क को एक समान बनाने के लिए निम्नलिखित स्लैब को अनिवार्य किया है: 

  • इनकमिंग ट्रांसक्शन के लिए कोई शुल्क लागू नहीं है। 
  • ₹ 2,00,000 -5,00,000 तक के रकम के लिए शुल्क ₹ 49.50 से अधिक नहीं होना चाहिए (बिना कर के, यदि कोई हो)। 

वैसे इन्ट्रा बैंक ट्रांसक्शन के लिए कोई शुल्क लागू नहीं है। कोई बैंक अपने ग्राहकों से कम शुल्क ले सकता है, लेकिन RBI द्वारा निर्धारित दरों से अधिक शुल्क नहीं ले सकता। 

हालांकि इंटरनेट और मोबाइल बैंकिंग जैसे ऑनलाइन माध्यमों के ज़रिये किए गए ट्रांजैक्शन पर कोई शुल्क नहीं लगता। 

How to transfer funds through RTGS?
RTGS से फंड ट्रांसफर कैसे कर सकते हैं?

  • सबसे पहले आपको अपने इंटरनेट बैंकिंग सुविधा को एक्टिव करना होगा। एक्टिवेशन करने के लिए अपने बैंक शाखा से संपर्क करना अनिवार्य है। या फिर आपके पास ATM है और mobile number link है तो आप खुद से भी कर सकते हो।
  • आपको प्रदान की गई आईडी और पासबुक के साथ बैंक के ऑनलाइन वेब पोर्टल पर लॉगिन करें। अपनी प्रोफाइल पर जाएं और “beneficiary” चुनें।
  • उपलब्ध इंटरबैंक भुगतान विकल्पों में से “RTGS” को चुने। लाभार्थी को जोड़ने के लिए दिए गए विकल्प को चुनें और लाभार्थी का नाम, अकाउंट नंबर, पता और IFSC जैसी आवश्यक जानकारी भरें।
  • ‘confirm’ करने के बाद ‘accept Terms of Service (Terms & Conditions)’ के बटन पर क्लिक करें।
  • एक अतिरिक्त सुरक्षा के लिए आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर एक सिक्योरिटी पासवर्ड भेजा जाता है। लाभार्थी को अधिकृत करने के लिए यह पासवर्ड डालें।
  • जोड़े गए लाभार्थी को बैंक और सुरक्षा उपयोगों के आधार पर 30 मिनट में या कुछ घंटे के भीतर एक्टिव किया जाता है। एक बार लाभार्थी का अकाउंट एक्टिव हो जाने पर आप तुरंत पैसे ट्रांसफर कर सकते हैं ।
  • RTGS के माध्यम से इंटर बैंक भुगतानकर्ता को पैसे भेजने के लिए  ‘Payments/Transfers’ का चयन करे।  
  • ट्रांजैक्शन का  प्रकार चुने।
  • अब राशि दर्ज करें और जोड़े गए लाभार्थी अकाउंट की लिस्ट से  लाभार्थी का अकाउंट चुने। 
  • ‘Accept Terms of Service’ पर क्लिक करें।

नोट: यहाँ पे मैंने आपको बस कुच्छ जरुरी स्टेप को समझने के लिए बताया है। आपको अपने बैंक के आधार पे खुद ही ये करना होगा क्योकि हमेशा banking app में कुच्छ न कुच्छ बदलाव होते रहते हैं।

चलिए अब जानें की इस प्रक्रिया के लाभ क्या हैं। 

What are the benefits of RTGS?
RTGS के क्या लाभ हैं?

  • पहले बड़ी राशि का भुगतान डिमांड ड्राफ्ट के माध्यम से किया जाता था जिसमे करीब 3 दिन लग जाते थे। अब RTGS के माध्यम से कुछ ही समय में रकम का भुगतान किया जाता है।  इससे  समय की बचत होती है।
  • बिना किसी कागजी कार्रवाई के आप बड़ी राशि को जल्दी हस्तांतरित कर सकते हैं। 
  • RTGS एक ऑनलाइन प्रक्रिया है, जिसके कारण इससे पैसे भेजने से पैसे चोरी होने या चेक जाली होने का खतरा नहीं होता है।
  • अधिक राशि को आसानी से स्थानांतरित किया जा सकता है, जिससे कंपनी के लिए अपने व्यवसाय को सुचारू रूप से चलाना आसान हो जाता है।
  • यह कंपनियों को अपनी व्यवसायिक पूंजी को बेहतर तरीके से संचालित करने में भी मदद करता है।
  • यह एक बेहतर आपूर्तिकर्ता खरीदार संबंध सुनिश्चित करता है क्योंकि एक बड़ी राशि को एक ही बार में और बिना किसी देरी के ट्रांसफर किया जा सकता है।

What are the requirements of a RTGS transaction
RTGS लेनदेन के लिए क्या आवश्यकताएं हैं?

RTGS के ज़रिये पैसे भेजने से पहले आपको यह जानना ज़रूरी है की किसी ट्रांसक्शन की क्या आवश्यकताएं हैं। इससे यह प्रक्रिया आपके लिए और भी आसान बन जायेगी। RTGS प्रक्रिया शुरू करने से पहले ग्राहकों को निम्नलिखित जानकारी बैंक में देनी होती है। 

  • भेजी जाने वाली राशि
  • राशि डेबिट करने के लिए रिमिटेड ग्राहक की अकाउंट जानकारी
  • लाभार्थी और शाखा का नाम
  • IFSC कोड
  • लाभार्थी ग्राहक का नाम
  • लाभार्थी ग्राहक  का अकाउंट नंबर
  • रिसीव पर जानकारी के लिए प्रेषक, यदि कोई हो तो 

अगर पैसे सफलतापूर्वक ट्रांसफर नहीं  हुए हैं तो ग्राहक को इस के बारे में सूचित किया जाता है, और राशि उसके अकाउंट में वापस जमा कर दी जाती है।

Some other facts related to RTGS:
RTGS से जुड़े कुछ अन्य तथ्य:

  • RTGS की न्यूनतम लिमिट ₹2,00,000 है, इसमें कोई भी उच्चतम लिमिट नहीं होती।
  • एक बार‌ RTGS पेमेंट शुरू करने पर आप इसे कैंसिल नहीं कर सकते।  
  • RTGS के ज़रिये आप एक ही बैंक के दो अकाउंट में या फिर मोबाइल नंबर व इंटरनेट बैंकिंग के ज़रिये दो अलग-अलग बैंक के बीच पैसा ट्रांसफर कर सकते हैं।
  • अगर RTGS के ज़रिये पैसे दूसरे अकाउंट में ट्रांसफर हो जाते हैं तो इसे दोबारा प्राप्त नहीं किया जा सकता।

More Important Full Form:

RTGS Full Form: Conclusion

इस लेख में मैंने आपको RTGS की सारी महत्वपूर्ण जानकारी देने की कोसिस किया है जैसे RTGS kya haiRTGS ka full form (RTGS full form in Hindi)Banking में RTGS से क्या फायदे हैं और इसका इस्तेमाल कैसे करते हैं आदि।

अंत में मैं आप से यही कहना चाहूँगा की अगर आपको RTGS full form, what is RTGS in Hindi वाली यह लेख पसंद आया हो तो इसे सोशल मीडिया पे शेयर जरुर करें। अगर आप कुछ कहना या पूछना चाहते हैं तो निचे कमेंट कर सकते हैं।

Related Posts

Leave a Comment

error: Alert: Content selection is disabled!!