MLA full form: एमएलए कौन होता है?, MLA का फुल फॉर्म

MLA full form (MLA का फुल फॉर्म): भारत एक लोकतांत्रिक देश है। हमारे देश में प्रशासन का संचालन करने के लिए कार्य प्रणाली को तीन स्तरों में विभाजित किया गया है। प्रथम स्तर पर केंद्र सरकार है जो पूरे भारत के स्तर पर कार्य करता है। दूसरे स्तर पर राज्य सरकार है जो राज्य की सीमाओं तक सीमित है, राज्य सरकार केवल राज्य के दायरे के अंदर कार्य करता है। तीसरे स्तर पर पंचायत और नगरपालिका है जो स्थानीय स्तर पर कार्य करता है।

आइये अब ज़रा राज्य सरकार की बात करें क्यूंकि आज हम जिस विषय पर चर्चा करेंगे, वह राज्य सरकार से संबंधित है। दो विधायिकाओं वाले राज्यों में एक राज्य विधान परिषद और एक राज्य विधान सभा होता है। अंग्रेज़ी में इन्हें State Legislative Council और State Legislative Assembly कहा जाता है। राज्य विधानमंडल के ऊपरी स्तर पर विधान परिषद होता है और विधान सभा नीचला स्तर है।

MLA full form

विधान सभा के सदस्यों को MLA कहा जाता है। आज हम आपको MLA की पूरी जानकरी देंगे, जैसे, MLA किसे कहते हैं, MLA का फुल फॉर्म (full form of MLA) MLA बनने की योग्यता क्या है, इनके चुनाव की प्रक्रिया क्या है, इनके कार्य आदि। आइये MLA के full form से शुरू करें।

MLA full form – MLA का फुल फॉर्म 

English में MLA का full form है: “Member of Legislative Assembly

Hindi में MLA का full form है: मेम्बर ऑफ़ लेजिस्लेटिव असेंबली (विधान सभा के सदस्य)।

Who is an MLA? MLA किसे कहते हैं?

MLA को आम भाषा में विधायक कहते हैं। जनता प्रत्येक निर्वाचन क्षेत्र से एक प्रतिनिधि को चुनती है, जो बाद में विधायक बन जाता है। इन प्रतिनिधियों को राज्य सरकार की विधायिका के लिए चुना जाता है और इन्हीं को विधान सभा के सदस्य (MLA या विधायक) के रूप में जाना जाता है। लोकसभा में प्रत्येक राज्य के प्रत्येक सांसद के लिए सात से नौ विधायक होते हैं। 

चूंकि एक विधायक विधान सभा का सदस्य होता है जिसे किसी दिए गए निर्वाचन क्षेत्र के निवासियों द्वारा चुना जाता है, राज्य स्तर पर विधायकों का वही दर्जा और स्थिति होती है जो सांसदों की राष्ट्रीय स्तर पर होती है।

What are the requirements to become an MLA?
MLA बनने के लिए क्या-क्या आवश्यकताएं हैं?

सांसद बनने की जो आवश्यकताएं है, एक विधायक बनने की भी वही आवश्यकताएं हैं:

  • MLA बनने के लिए भारतीय नागरिक होना अनिवार्य है। 
  • आवेदन करने वाले व्यक्ति की आयु  25 वर्ष से कम नहीं होनी चाहिए।
  • आवेदक को किसी भी निर्वाचन क्षेत्र का मतदाता होना चाहिए। जो व्यक्ति किसी भी राज्य निर्वाचन क्षेत्र में मतदान नहीं करता है, वह विधायक बनने के योग्य नहीं है। 
  • नामांकित व्यक्ति का मानसिक रूप से स्वस्थ और स्थिर होना ज़रूरी है।

(What is the process to become an MLA?
(MLA बनने की प्रक्रिया क्या है?)

एक निर्वाचन क्षेत्र के मतदाता सीधे विधायकों का चुनाव करते हैं। विधायक चुनने की प्रक्रिया कुछ इस प्रकार है:

  • वर्तमान विधानसभा का कार्यकाल समाप्त होने के बाद, आम तौर पर पांच साल की अवधि के बाद, चुनाव होते हैं।
  • जनसंख्या के आधार पर, प्रत्येक राज्य को विभिन्न निर्वाचन क्षेत्रों या निर्दिष्ट क्षेत्रों में विभाजित किया जाता है।
  • इन निर्वाचन क्षेत्रों में उम्मीदवारों के लिए मतदान के लिए न्यूनतम आयु 18 वर्ष है।
  • जब तक प्रत्येक उम्मीदवार आवश्यकताओं को पूरा करता है, उनमें से कोई भी एक निर्वाचन क्षेत्र से कार्यालय के लिए चुनाव के लिए लड़ सकता है।
  • उम्मीदवार निर्दलीय या किसी विशेष राजनीतिक दल के सदस्य के रूप में चुनाव लड़ सकते हैं।
  • मतदाता सार्वभौमिक वयस्क मताधिकार (universal adult franchise) का उपयोग करके सदस्यों का चुनाव करते हैं। 
  • यदि विधानसभा में एंग्लो-इंडियन समुदाय का पर्याप्त प्रतिनिधित्व नहीं है, तो किसी राज्य के राज्यपाल के पास एक सदस्य को नामित करने का कार्यकारी अधिकार होता है।

एक बार निर्वाचित होने के बाद, विधायक अपने-अपने निर्वाचन क्षेत्रों के लिए विधायक के रूप में कार्य करते हैं।

What are the duties of an MLA?
एक MLA के कर्तव्य क्या हैं?

कानून बनाना विधायिका का सबसे महत्वपूर्ण कर्तव्य है। उन सभी मामलों जिन पर संसद कानून पास नहीं कर सकता, वे राज्य विधानमंडल के अधीन आ जाते हैं जैसे पुलिस, जेल, सिंचाई, कृषि, स्थानीय सरकारें, सार्वजनिक स्वास्थ्य, तीर्थयात्रा, कब्रस्तान आदि। शिक्षा, विवाह और तलाक, जंगल और जंगली जानवरों तथा पक्षियों की आबादी का संरक्षण कुछ ऐसे क्षेत्र हैं जहां संसद और सरकार दोनों कानून पास कर सकते हैं।

Finance bill के मामले में भी यही स्थिति होती है। केवल विधायक को finance bill पेश करने की अनुमति है। विधान परिषद के पास कानून पास करने या संशोधन का प्रस्ताव करने के लिए finance bill प्राप्त होने की तारीख से 14 दिन की अवधि होती है। विधानसभा इन संशोधनों को मंजूरी दे भी सकती है और नहीं भी।

आइये अब सभी राज्यों के MLA की संख्या पर एक नज़र डालें।  

राज्य का नामMLA की संख्या
आंध्र प्रदेश175
अरुणाचल प्रदेश60
असम126
बिहार243
छत्तीसगढ़90
गोवा40
गुजरात182
हरयाणा90
हिमाचल प्रदेश68
झारखंड81
कर्नाटक224
केरल140
मध्य प्रदेश230
महाराष्ट्र288
मणिपुर60
मेघालय60
मिजोरम40
नागालैंड 60
ओडिशा147
पंजाब117
राजस्थान 200
सिक्किम32
तमिलनाडु234
तेलंगाना119
त्रिपुरा60
उत्तर प्रदेश403
उत्तराखंड70
पश्चिम बंगाल294
दिल्ली70
पुदुचेरी33
जम्मू कश्मीर90

What is the term of MLA?
MLA का कार्यकाल कितना होता है?

विधानसभा का कार्यकाल पांच वर्ष का होता है। फिर भी, मुख्यमंत्री के अनुरोध पर राज्यपाल इसे जल्दी भंग कर सकते हैं यदि मुख्यमंत्री के पास वास्तव में विधानसभा में बहुमत है। यदि कोई उम्मीदवार बहुमत का समर्थन हासिल नहीं कर सकता है और मुख्यमंत्री नहीं बन सकता है, तो विधानसभा जल्द ही भंग हो सकती है।

संकट के दौरान, विधानसभा का कार्यकाल बढ़ाया जा सकता है, लेकिन केवल एक बार में अधिकतम छह महीने के लिए। विधान परिषद के सदस्यों का चयन करते समय निचले सदन में प्रत्येक दल की संख्या को ध्यान में रखा जाता है। 

दरअसल विधान सभा की अवधि छह साल की होती है, और हर दो साल में सदन के एक तिहाई सदस्य पद छोड़ देते हैं। यदि निचला सदन एक कानून पास करता है जो ऊपरी सदन को भंग कर देता है और इस कानून को संसद के दोनों सदनों से मंज़ूरी मिल जाती है और फिर राष्ट्रपति द्वारा कानून में हस्ताक्षर किया जाता है, तो ऊपरी सदन निचले सदन द्वारा भंग किया जा सकता है।

छह साल के कार्यकाल वाले उच्च सदन वाले एकमात्र राज्य हैं – आंध्र प्रदेश, बिहार, कर्नाटक, महाराष्ट्र, तेलंगाना और उत्तर प्रदेश। ऊपरी सदन की अनावश्यक जटिलताओं, खर्चों और मुद्दों के कारण, अन्य सभी सरकारों ने उपरोक्त प्रक्रिया का उपयोग करके इसे हटा दिया है।

उम्मीद है इस आर्टिकल से आपको MLA से संबंधित सभी प्रकार की जानकारी मिल चुकी है। यदि आप हमसे अपने विचार शेयर करना चाहते हैं तो नीचे कमेंट सेक्शन में जाकर हमें अपनी राय बता सकते हैं और अगर यह आर्टिकल आपको पसंद आता है तो अपने दोस्तों के साथ शेयर करना न भूलें।

More Important Full Forms:

MLA full form: Conclusion

इस लेख में मैंने आपको MLA की सारी महत्वपूर्ण जानकारी देने की कोसिस किया है जैसे MLA kya haiMLA ka full form (MLA full form in Hindi), MLA से अभिप्राय?, MLA कैसे बने, विधायक बनने के लिए योग्यता क्या और कितनी होनी चाहिए आदि।

अंत में मैं आप से यही कहना चाहूँगा की अगर आपको MLA full form, what is MLA in Hindi वाली यह लेख पसंद आया हो तो इसे सोशल मीडिया पे शेयर जरुर करें। अगर आप कुछ कहना या पूछना चाहते हैं तो निचे कमेंट कर सकते हैं।

Related Posts

Leave a Comment

error: Alert: Content selection is disabled!!