B.P.Ed Full Form: B.P.Ed क्या है और कैसे करें?

B.P.Ed full form (B.P.Ed का फुल फॉर्म) आज के समय में शारीरिक शिक्षा और खेलकूद के विषय के शिक्षकों की मांग हर स्कूल में बढ़ रही है। अगर आप भी एक शारीरिक शिक्षक (फिज़िकल एजुकेशन टीचर) बनना चाहते हैं तो हमारे इस आर्टिकल को अंत तक ज़रूर पढ़ें।

B.P.Ed full form

इस आर्टिकल में हम आपको एक ऐसे कोर्स के बारे में बताने जा रहे हैं जिससे आप शारीरिक शिक्षा और खेल शिक्षा के प्रशिक्षक या शिक्षक के तौर पर अपना भविष्य बना सकते हैं। आज हम B.P.Ed पर चर्चा करेंगे। अगर आप शारीरिक शिक्षा में रूचि रखते हैं और इस क्षेत्र में पढ़ाई करना चाहते हैं, तो यह कोर्स आपके लिए बहुत ही फायदेमंद साबित होगी।

इस पाठ्यक्रम को पूरा करने के बाद आप आसानी से शारीरिक शिक्षा के क्षेत्र में नौकरी कर सकते हैं। सबसे अच्छी बात तो यह है की अभी भी इस क्षेत्र में ज़्यादा कम्पीटीशन नहीं है। आपको ज़रुरत है बस थोड़े स्किल डेवलपमेंट की। पर सबसे पहले जरुरी यह है की आपको B.P.Ed के बारे में पूरी जानकारी हो जैसे B.P.Ed क्या है, BPEd full form (BPEd का फुल फॉर्म), B.P.Ed कैसे करें आदि।

B.P.Ed Full Form – BPEd का फुल फॉर्म

तो चलिए सबसे पहले जानें की B.P.Ed का full form क्या है।

English में B.P.Ed का full form है: “Bachelor in physical education“।

Hindi में B.P.Ed का full form है: शारीरिक शिक्षा में स्नातक (बैचलर इन फिज़िकल एजुकेशन)

What is a B.P.ED course? B.P.ED कोर्स क्या है?

B.P.Ed अंडर ग्रैजुएट लेवल का कोर्स है। यह कोर्स उन तरीकों का वर्णन करता है जिनका उपयोग करके मानव शरीर को स्वस्थ रखा जा सकता है। B.P.Ed की डिग्री हासिल करने के लिए 3 से 4 साल का समय लगता है। इस कोर्स को आप पार्ट टाइम या फुल टाइम के तौर पर कर सकते हैं। 

इस कोर्स को पूरा करने के बाद आपको शारीरिक शिक्षा में स्नातक की डिग्री मिलती है। इस कोर्स में क्रिकेट, हॉकी, फुटबॉल, बॉक्सिंग, लोंग जंप, कुश्ती, खो-खो, जिमनास्टिक्स, बैडमिंटन, कबड्डी, टेनिस, वॉली बॉल और हाई जंप जैसे सभी खेलों के बारे में पढ़ाया जाता है।

एक B.P.Ed के छात्र को शारीरिक स्वास्थ्य, योगा, मानसिक स्वास्थ्य और प्राणायाम के विषय में भी पढ़ना पड़ता है। B.P.Ed की डिग्री मिल जाने पर आप किसी भी सरकारी या प्राइवेट स्कूल के शिक्षण संस्था में एक physical education teacher के तौर पर नौकरी कर सकते हैं। इस कोर्स को मुख्य तौर पर शारीरिक शिक्षक, खेल शिक्षक अथवा योगा शिक्षक बनने के लिए ही बनाया गया है।

What is the eligibility for B.P.ED course?
B.P.ED कोर्स के लिए योग्यता क्या है?

  • सबसे पहले तो आपको किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से किसी भी स्ट्रीम (चाहे साइंस हो, कॉमर्स या फिर आर्ट्स) में 12वीं की परीक्षा पास करनी होगी। 12वीं में कम से कम 50% अंक लाना अनिवार्य है।
  • आप 12वीं में चाहे कोई भी स्ट्रीम चुनें, पर आपके विषयों में फिज़िकल एजुकेशन का होना ज़रूरी है। आप चाहे तो इसे main subject या फिर vocational subject के तौर पर भी पढ़ सकते हैं।   
  • इस कोर्स में दाखिला लेते वक्त आपका शारीरिक परीक्षण भी किया  जाता है।  इसलिए आप अपना शारीरिक स्वास्थ्य बनाए रखें।

How to take admission in B.P.ED?
B.P.ED में प्रवेश कैसे लें?

  • जैसा की हमने पहले भी कहा B.P.Ed कोर्स को करने के लिए आपको सबसे पहले 12वीं की परीक्षा उत्तीर्ण करनी होगी। इस कोर्स में दाखिला 12वीं के अंक के आधार पर होता है। साथ ही आपको एक प्रवेश परीक्षा भी देनी होती है। बहुत सारे कॉलेज और यूनिवर्सिटीज B.P.Ed में दाखिला के लिए प्रवेश परीक्षा आयोजित करते हैं। 
  • आप जिस कॉलेज में पढ़ना चाहते हैं, उस कॉलेज की ऑफिशियल वेबसाइट में जाकर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।
  • B.P.Ed कोर्स के लिए आवेदन की प्रक्रिया मार्च और अप्रैल महीने में शुरू हो जाती है।  आवेदन करते समय आपको अपनी 12वीं की मार्कशीट जमा करनी पड़ती है। फिर कॉलेजों के आधार पर मेरिट लिस्ट प्रकाशित की जाती है।
  • प्रवेश परीक्षा में सामान्य योग्यता, सामान्य ज्ञान, अंग्रेजी, विज्ञान, आदि से संबंधित प्रश्न पूछे जाते हैं। इसलिए आपको 12 वीं से ही इस परीक्षा की तैयारी शुरू कर देनी चाहिए। 
  • उम्मीदवार को लिखित परीक्षा के साथ-साथ शारीरिक परीक्षा में भी उत्तीर्ण होना होगा। इस परीक्षण में शारीरिक गतिविधियाँ जैसे पुल-अप, फ्लेक्स्ड लेग सिट-अप, शटल रन, 600-यार्ड रन, स्टैंडिंग ब्रॉड जंप आदि शामिल हो सकते हैं।
  • फिर आपके किसी खेल को खेलने की क्षमता का परीक्षण किया जाएगा। इसके अंतर्गत आपके किसी पसंदीदा खेल के आधार पर आपका मूल्यांकन किया जाता है। 
  • अंत में उम्मीदवार के व्यक्तित्व को आंकने के लिए साक्षात्कार का आयोजन किया जाता है। 

उपरोक्त सभी परीक्षणों में आपके द्वारा प्राप्त क्युमुलेटिव अंक के आधार पर आपका चयन किया जाएगा। 

आपकी सुविधा के लिए हम इस लेख में हमारे देश के कुछ टॉप B.P.Ed कॉलेज की सूचि दे रहे हैं। 

  • महात्मा गांधी यूनिवर्सिटी
  • बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी
  • लवली प्रोफेशनल यूनिवर्सिटी
  • महर्षि दयानंद यूनिवर्सिटी
  • चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी
  • पंजाब यूनिवर्सिटी
  • कालीकट यूनिवर्सिटी 
  • चौधरी चरण सिंह यूनिवर्सिटी 
  • छत्रपति शाहूजी महाराज यूनिवर्सिटी 
  • लखनऊ यूनिवर्सिटी 
  • मगध यूनिवर्सिटी 
  • अन्नामलाई यूनिवर्सिटी 
  • कुरुक्षेत्र यूनिवर्सिटी

What career options are available after completing B.P.Ed?
B.P.Ed पूरा करने के बाद कौन से करियर विकल्प उपलब्ध हैं?

  • शिक्षक/प्रशिक्षक: एक शारीरिक शिक्षा के शिक्षक बच्चों को शारीरिक रूप से सक्रिय होने के लिए प्रोत्साहित करते हैं। B.P.Ed शिक्षक बच्चों के कौशल के विकास में सहायता करते हैं तथा उनमें स्वस्थ आहार और व्यायाम की आदतों को विकसित करने में भी मदद करते हैं ।
  • रेफरी या अंपायर: इनका दायित्व है खेल के स्तर को बनाए रखना और खेल आयोजन की देखरेख करना। एक अंपायर खेल में हुए उल्लंघन का पता लगाता है और खेल के नियमों के अनुसार दंड निर्धारित करता है।
  • जीम ट्रेनर: एक जीम ट्रेनर का काम है अपने ग्राहकों को सही तरीके से व्यायाम करने में मदद करना और ज़रुरत पड़े तो उन्हें खुद व्यायाम करके दिखाना। इसके अलावा, एक जीम प्रशिक्षक ग्राहकों को चोट से बचने और उचित फिटनेस बनाए रखने के लिए व्यायाम करने में मदद करता है। स्पोर्ट्स/एथलेटिक ट्रेनर: ये उच्च योग्य स्वास्थ्य देखभाल पेशेवर होते हैं। इनका दायित्व है आपातकालीन देखभाल, नैदानिक ​​​​निदान और खिलाड़ी की चोटों को ठीक करने जैसी सेवाएं प्रदान करने के लिए डॉक्टरों के साथ काम करना।
  • योग ट्रेनर: एक योग ट्रेनर योगाभ्यास करने वाले छात्रों को अपने शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य में सुधार लाने में सहायता करता है।

इनके अतिरिक्त B.P.Ed की डिग्री प्राप्त करने पर आप स्पोर्ट्स पत्रकार, स्पोर्ट्स एडमिनिस्ट्रेटर, स्पोर्ट्स क्लब मैनेजर, कमेंटेटर जैसे पदों पर भी कार्य कर सकते हैं। 

How much salary is offered after doing a B.P.Ed course?

B.P.Ed कोर्स करने के बाद कितनी सैलरी मिलती है?

इस कोर्स को पूरा करने पर आप शारीरिक फिटनेस शिक्षक के तौर पर ₹20,000 से लेकर ₹30,000 तक महीने में कमा सकते हैं। अगर आप एक डिजिटल फिटनेस प्रशिक्षक के तौर पर काम करते हैं तो आप ₹15000 से ₹ 20000 तक महीने में कमा सकते हैं।

फिर जैसे-जैसे आप का अनुभव और नेटवर्क बढ़ता जाएगा, वैसे-वैसे आपकी आय भी बढ़ती जायेगी। देखा जाए तो एक  शारीरिक फिटनेस शिक्षक हर महीने एक लाख तक कमा सकते हैं।

उम्मीद है कि आप इस आर्टिकल से इस कोर्स से संबंधित सारी महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त कर चुके हैं।  अगर फिर भी आपके मन में कोई प्रश्न है तो आप हमें कमेंट करके पूछ सकते हैं और आपकी राय भी हमसे शेयर कर सकते हैं। यदि आपको हमारा आर्टिकल पसंद आता है तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करना न भूलें।

More Important Full Forms:

B.P.Ed full form: Conclusion

इस लेख में मैंने आपको MLA की सारी महत्वपूर्ण जानकारी देने की कोसिस किया है जैसे B.P.Ed kya haiB.P.Ed ka full form (B.P.Ed full form in Hindi), B.P.Ed से अभिप्राय?, B.P.Ed कैसे करें, BPEd Full Form इसे करने के क्या फायदे हैं, B.P.Ed के लिए योग्यता क्या और कितनी होनी चाहिए आदि।

अंत में मैं आप से यही कहना चाहूँगा की अगर आपको B.P.Ed full form, what is B.P.Ed in Hindi (BPEd Full Form) वाली यह लेख पसंद आया हो तो इसे सोशल मीडिया पे शेयर जरुर करें। अगर आप कुछ कहना या पूछना चाहते हैं तो निचे कमेंट कर सकते हैं।

   

Related Posts

Leave a Comment

error: Alert: Content selection is disabled!!